Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
कहते हैं... किसी चीज के बारे में जानकारी नहीं होने से अधिक बुरा है उसके बारे में गलत जानकारी होना, क्योकि गलत जानकारी या भ्रम के चक्कर में व्यक्ति को अधिक नुकसान झेलना पड़ जाता है। ये बात हर मामले में लागू होती है... बाहरी दुनिया के ज्ञान से लेकर आपके रहन-सहन में भी। खासकर सेहत से जुड़े भ्रम आपके लिए बेहद नुकसानदायक है और हमारे यहां 90% जनता तो इसी भ्रम के माया जाल में फंसकर रह जाती है। कहीं आप भी इसी भ्रम के मायाजाल में तो नहीं फंसे हैं, चलिए हम ही आपके कुछ भ्रम दूर कर देते हैं। जी हां, हम आपको सेहत से जुड़े उन मिथ के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे आमूमन लोग सच मानकर बैठे रहते हैं, जैसे कि...
हर रोज 8 ग्लास पानी पीना चाहिए
अक्सर आपने लोगों को ये कहते सुना होगा कि स्वस्थ रहने के लिए हर रोज 8 ग्लास पानी पानी चाहिए, जबकि ये वास्तव में 8 ग्लास पानी कोई मानक मापदण्ड नहीं है क्योंकि पानी की आवश्कयता हर व्यक्ति के उम्र, वजन और शारीरिक संरचना पर निर्भर करती है। ऐसे में ये कहना कि हर किसी को 8 ग्लास पानी पीना चाहिए गलत है।
स्लिम रहने के लिए कम खाना खाएं
ये तो वो भ्रम है जो 90% लड़कियां पाल कर रखती है, जिसे भी स्लिम होने का सनक चढ़ती है वो खाना पीना छोड़ कर बैठ जाता है। जबकि वास्तव मे ये गलत है, क्योंकि खाना छोड़ देने या कम करने से आपका शरीर कमजोर होगा जबकि स्लिम होने और कमजोर होने काफी बड़ा अंतर है। वहीं कई बार ऐसा भी होता है कि कुछ देर के लिए अगर आप खाना छोड़ देते हैं दुबारा भूख लगने पर आप उससे अधिक खा लेते हैं और फिर हिसाब बराबर हो जाता है, इसलिए खाना बिलकुल भी छोड़िए बल्कि आपको अपनी डाइट पूरी लेनी चाहिए, हां स्लिम और फिट रहने के लिए आपको एक्सरसाइज और वर्कआउट को अपनी रूटीन में शामिल करना होगा, क्योंकि इसी के जरिए आप फिट रह सकते हैँ।
खाली पेट एक्सरसाइज करनी चाहिए
जी नहीं, ये तो बिलकुल भी सही नहीं है कि खाली पेट ही एक्सरसाइज करें, क्योंकि इससे तो आप जल्द ही थक जाएंगे, यहीं नहीं इससे आपको दूसरी स्वास्थय समस्या हो भी हो सकती है। इसलिए खाली पेट नहीं बल्कि एक्सरसाइज से आधा घंटे पहले आपको हल्का आहार ले लेना चाहिए, ताकी आपके शरीर का ऊर्जा बनी रहे।
चावल खाने से मोटापा बढ़ता है
चावल में कार्बोहाइड्रेट भरपूर मात्रा में होता है और साथ ही ये खाने का बाद जल्दी पच जाता है, ऐसे में ये भ्रम ज्यादातर लोगों को होता है कि चावल खाने से मोटापा बढ़ता है, जबकि ये पूरी तरह से सच नहीं है। बल्कि अगर आप चावल ये सोचकर नहीं खा रहे हैं कि इससे मोटापा बढ़ेगा तो आप गलती करे रहे होते हैं कि क्योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट के साथ-साथ दूसरे कई सारे आवश्यक पोषक तत्व भी पाए जाते हैं, जिनसे आप वंचित रहा जाते हैं।
दिन की शुरूवात एक दूध ग्लास दूध के साथ करनी चाहिए
जी हां, ये भी सेहत और आहार से जुड़ा बड़ा भ्रम है कि दिन की शुरूवात एक दूध ग्लास दूध के साथ करनी चाहिए। क्योंकि खाली पेट दूध सेहत बनाने के बजाए, उसे नुकसान पहुंचाता है। इससे आपको गैस, एसीडिटी, और पेटी की समस्याएं हो सकती हैं, इसलिए दूध में कॉर्नफ्लैक्स, ओट्स या दूसरी चीजें मिलाकर ही उसका सेवन करना चाहिए।
दूध के साथ फलों का सेवन
आमतौर पर सेहत बनाने के लिए ये सलाह दी जाती है कि दूध के साथ फल का सेवन करें, पर वास्तव में ये सेहत को फायदा पहुंचाने की बजाए नुकसान पहुंचाता है, दरअसल दूध में पाए जाने वाला कैल्शियम फलों के कई एंजाइम्स को अवशोषित कर लेता है, ऐसे में शरीर को फलों के पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं। वहीं अगर आप संतरा, अंगूर, अनन्नास जैसे खट्टे फल दूध के साथ ले रहे हैं, तो ये आपकी सेहत के लिए बेहद हानिकार हो सकता है। इसलिए दूध और फलों का सेवन साथ-साथ करने की बजाए अलग-अलग करें।
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 1
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.