Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
अभी ज्यादा वक्त नहीं बीता कि जब कला और साहित्य जगत की तरफ से देश में बढ़ते असहीसुणता को लेकर खूब हंगामा बरपा था, वहीं एक बार फिर से देश में ऐसे ही हालात बनते दिख रहे हैं। दरअसल, दिग्गज अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में देश के मौजूदा सामाजिक और राजनीतिक हालातों पर अपनी चिंता जताई है, यहीं नहीं अभिनेता ने अपने बयान में ये तक कह डाला है कि उन्हें देश के कठीन हालातों को देखकर अपने बच्चों के भविष्य का डर सता रहा है। ऐसे में अभिनेता के इस इंटरव्यू के बाद इस पर राजनीतिक बयानबाजियों का दौर चल पड़ा है, यहां तक एक राजनीतिक दल के प्रमुख ने तो अभिनेता के लिए पाकिस्तान का टिकट बुक कर दिया है।
दरअसल, नसीरुद्दीन शाह ने 'कारवां-ए-मोहब्बत इंडिया' द्वारा किए गए एक वीडियो साक्षात्कार में ये बात कही है, जिसे सोमवार को यूट्यूब चैनल पर पोस्ट किया गया है। इस इंटरव्यू में अभिनेता ने कहा है... ‘जहर फैलाया जा चुका है' और अब इसे रोक पाना मुश्किल होगा... अब इस जिन्न को वापस बोतल में बंद करना मुश्किल होगा। आज के समय में जो कानून को अपने हाथों में ले रहे हैं, उन्हें खुली छूट दे दे गई है... यहां तक कि एक गाय की मौत को एक पुलिस अधिकारी की मौत से ज्यादा तवज्जो दी गई.''
<iframe src="https://www.facebook.com/plugins/video.php?href=https%3A%2F%2Fwww.facebook.com%2FKarwaneMohabbat%2Fvideos%2F739655969724055%2F&show_text=0&width=560" width="560" height="315" style="border:none;overflow:hidden" scrolling="no" frameborder="0" allowTransparency="true" allowFullScreen="true"></iframe>
ऐसे में जैसे ही नसीरुद्दीन शाह के इस इंटरव्यू की वीडियो सामने आई, इसे लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म हो चला है। इस पर जमकर राजनीतिक बयानबाजी भी शुरू हो चुकी है, एक तरफ जहां कुछ राजनीजित दल अभिनेता के इस बयान का संदर्भ लेकर वर्तमान केंद्र सरकार पर निशाना साध रही है, तो वहीं एक राजनीतिक दल के प्रमुख ने तो अभिनेता के लिए पाकिस्तान का टिकट ही बुक कर दिया है।
जी हा, उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के प्रमुख अमित जानी ने बकायदा 14 अगस्त, 2019 का मुंबई से कराची का टिकट बुक करवा कर नसीरुद्दीन शाह के घर पर भिजवा दिया है।
अमित जानी का कहना है कि अगर नसीरुद्दीन शाह के हिंदुस्तान में डर लगता है तो वो पाकिस्तान जा सकते हैं और चूंकि 14 अगस्त पाकिस्तान का आजादी दिवस है इसलिए मैने ये दिन चुना है ताकी 15 अगस्त तक हमारे देश से एक गद्दार कम हो जाएगा।
Author: Yashodhara Virodai
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 1
  • 0
  • 1

Add you Response

  • Please add your comment.