Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
हाल के दिनों में बॉलीवुड में बायोपिक का चलन सा चल पड़ा है... खेल, सिनेमा से लेकर राजनीतिक जगत की प्रसिद्ध हस्तियों की जीवन पर आधारित फिल्में बन रही है। इसी कड़ी में अब महाराष्ट्र के एक दिग्गज नेता की बायोपिक बहुत जल्द पर्दे पर आने वाली है, लेकिन इससे पहले ही इस फिल्म के विषय और संवादो की आलोचना होने लगी है। जी हां, हम बात कर रहे हैं नवाजुद्दीन सिद्दीकी की अपकमिंग फिल्म 'ठाकरे' की, जिसमें वो शिव सेना के संस्थापक बाल ठाकरे का किरदार निभा रहे हैं। हाल ही में इस फिल्म का ट्रेलर रिलीज हुआ है, जिसके बाद से सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग भी शुरू हो चुकी है। बॉलीवुड एक्ट्रेस रिचा चढ्ढ़ा ने भी ठाकरे में नवाजुद्दीन को देख कुछ ऐसी ही प्रतिक्रिया दी है।
दरअसल, गैंग्स ऑफ वासेपुर में नवाजुद्दीन सिद्दीकी के साथ काम कर चुकी एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने ठाकरे के किरदार में नवाज को देख ट्वीट किया है... ''अरे इ हमरा फैजल तो बायपोलर निकला.''
<blockquote class="twitter-tweet" data-lang="en"><p lang="hi" dir="ltr">अरे ई हमरा फैजल तो बाईपोलर निकला बे !</p>— TheRichaChadha (@RichaChadha) <a href="https://twitter.com/RichaChadha/status/1078231271027892225?ref_src=twsrc%5Etfw">December 27, 2018</a></blockquote><script async src="https://platform.twitter.com/widgets.js" charset="utf-8"></script>
गौरतलब है कि फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर में नवाज सिद्दीकी के किरदार का नाम फैजल खान था और रिचा उनकी मां के किरदार में फिल्म में नजर आई थीं। वहीं रिचा के इस ट्विट की बात करें तो उनका इशारा नवाजुद्दीन का बाला साहेब जैसे कट्टर सम्प्रदायिक शख्सियत के किरदार को निभाने को लेकर है।
वहीं रिचा के अलावा दक्षिण भारतीय अभिनेता सिद्धार्थ ने भी इसे 'प्रोपेगेंडा फिल्म' करार देते हुए इसकी आलोचना की है। सिद्दार्थ ने लिखा है, ''बेहद रोचकता और वीरता को दिखाते हुए बहुत सारी नफरत बेची गई है...
<blockquote class="twitter-tweet" data-lang="en"><p lang="en" dir="ltr">The conveniently un-subtitled <a href="https://twitter.com/hashtag/Marathi?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw">#Marathi</a> trailer of <a href="https://twitter.com/hashtag/Thackeray?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw">#Thackeray</a>. So much hate sold with such romance and heroism (Music, tiger roars, applause, jingoism). No solidarity shown to millions of South Indians and immigrants who make <a href="https://twitter.com/hashtag/Mumbai?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw">#Mumbai</a> great. <a href="https://twitter.com/hashtag/HappyElections?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw">#HappyElections</a>! <a href="https://t.co/F13jMcIRle">https://t.co/F13jMcIRle</a></p>— Siddharth (@Actor_Siddharth) <a href="https://twitter.com/Actor_Siddharth/status/1078126519908618240?ref_src=twsrc%5Etfw">December 27, 2018</a></blockquote><script async src="https://platform.twitter.com/widgets.js" charset="utf-8"></script>
असल में, साठ के दशक में बाला साहेब ठाकरे ने दक्षिण भारतीय लोगों पर स्थानीय मराठी लोगों की नौकरियां छीनने का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ मुहीम चलाई थी, वहीं मुस्लिमों के प्रति उनकी कटुता जग जाहिर है। ऐसे में नवाज जैसे अभिनेता का ठाकरे का किरदार करना लोगों के समझ से परे हो रहा है और लोग उनकी जमकर आलोचना कर रहे हैं।
Author: Yashodhara Virodai
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.