Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
कहने को तो आज हम 21वीं सदी में जी रहे हैं, पर आज भी समाज में आधी आबादी को खुलकर ना तो जीने के आजादी है और ना ही अपने मन की करनी की। आज भी समाज महिलाओं को दोएम दर्जे का मानता है और उन्हें बहुत आम सी बातों के लिए भी संघर्ष करना पड़ता है। यहां तक कि परम्पराओं और नियमों के नाम पर उन पाबदियां लगाई जाती है। वैसा ऐसा सिर्फ हमारे जैसे विकासशील देशों में नहीं बल्कि कई विकसित देशों में भी महिलाओं पर कई सारी पाबंदियाँ लगा रखी हैं। आज हम ऐसे ही कुछ देशों में महिलाओं के खिलाफ बनाए गए अजीबो-गरीब नियमों के बारे में बता रहे हैं।
अंडरगारमेंट्स पहनने की मनाही
जी हां, बाहरी पोशाक की छोड़िए अमरीका के मिसौरी में महिलाओं के अंडरगारमेंट्स पहनने पर ही पाबंदी लगा रखी हैं और अगर कोई महिला इस नियम का उल्लंघन करती है, तो उसे जुर्माना और सजा भगतनी होती है।
खूबसूरत और सेहतमंद औरते को मिलती है फैक्ट्री में एंट्री
वहीं इटली में सिर्फ खूबसूरत और सेहतमंद औरते को ही चीज फैक्ट्री में एंट्री मिलती है, वहीं कोई लड़की या महिला बीमार या अच्छी नहीं दिखती हो तो उसका चीज फैक्ट्री में जाना बैन है।
पुरुषों के साथ स्टेडियम में नहीं बैठ सकती महिलाए
वैसे ईरान बाकी मामलों में तो तरक्की कर रहा है पर महिलाओं के मामले में वहां अभी भी लोगों की सोच वैसी है। वहां आई भी महिलाएं पुरुषों के साथ स्टेडियम में बैठ कर मैच नहीं देख सकती। अगर ऐसा कोई करता है तो उसे मिलनी भी तय है।
16 गज का कपड़ा पहनना है जरूरी है
वहीं दुनिया के विकसित देशो में अग्रणी माने जाने वाले माने अमरीका में भी महिलाओं के लिए बहुत सारे अजीबोगरीब नियम बन रखें हैं। दरअसल, अमेरिका के नॉर्थ कैरोलिना के शेर्लोट में महिलाओं को पूरे दिन 16 गज का कपड़ा पहने रहना होता है।
वोटिंग का हक नहीं
वहीं ईसाईयों के सबसे पवित्र माने जाने वाले देश वेटिकन सिटी में तो महिलाओं को मतदान का अधिकार ही नहीं मिला है।
महिलाओं के चप्पल से आवाज आना है अपराध
जी हां, इटली के काप्री आइलैंड में तो अगर राह चलते हुए किसी महिला या लड़की की चप्पल से आवाज आए तो इसे अपराध माना जाता है।
अंग प्रदर्शन पर 3 साल की सजा
ब्राजील जैसे विकसित देश में महिलाओं के अंग प्रदर्शन को लेकर सख्त कानून बन रखा है। वहां अगर कोई महिला ब्रेस्ट या निजी अंगो का प्रदर्शन करती है, तो उन्हें 3 साल का प्रावधान है।
Author: Yashodhara Virodai
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.