Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
मानसिक रूप से स्वस्थ रहने वाले लोग समाज में रहकर रचनात्मक काम करते हैं। इसके अलावा ये लोग अच्छी सोसायटी बनाने में अपनी महती भूमिका निभाते हैं। लेकिन दुर्भाग्य की बात तो यह है कि आजकल की भागदौड़ भरी ज़िन्दगी में बहुत ही कम लोग ऐसे हैं जो मानसिक रूप से पूरी तरह स्वस्थ होते हैं। जी हाँ, आज हर किसी को उनकी लाइफ़ स्टाइल अथवा कानपान के कारण किसी न किसी तरह की मानसिक समस्या से गुजरना ही पड़ता है।
ऐसे में यह कहना कि कोई व्यक्ति आज पूरी तरह से मानसिक रूप से स्वस्थ्य है, उचित नहीं होगा। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसे ताज़ा हुये शोध के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसमें इस बात का ख़ुलासा किया गया है कि कौन से लोग और की अपेक्षा मानसिक रूप से अधिक स्वस्थ होते हैं।
जी हाँ, आपको बता दें कि हाल ही में एक ताज़ा शोध में इस बात का ख़ुलासा का गया है कि देर से उठने वालों की तुलना में जल्दी उठने वाले लोग मानसिक रूप से ज़्यादा स्वस्थ रहते हैं। इतना ही नहीं वह कई तरह की बीमारियों से भी दूर रहते हैं। शोधकर्ताओं ने कहा है कि जो लोग सुबह जल्दी उठते हैं, उन्हें डिप्रेशन जैसी ख़तरनाक बीमारी का डर नहीं रहता है। ऐसे में यह बेहद ज़रूरी है कि आपको सुबह जल्दी उठने की आदत डाल लेनी चाहिए।
अगर इस बात की बात की जाये कि आख़िर सुबह उठने से किस तरह के फ़ायदे हैं, तो आपको बता दें कि सुबह जल्दी उठने से हमें ताज़ी हवा और अधिक मात्रा में हवा प्राप्त हो पाती है, जिसके कारण हमारे फेफड़ों का स्वास्थ्य उन लोगों की अपेक्षा स्वयं ही अधिक क्रियाशील और मज़बूत हो जाता है, जो कि देर से सोकर उठते हैं।
ऐसे में आप भी सुबह की शुद्ध और साफ़ ऑक्सीजन लेने से न चूकिए और इसके लिए रोज़ाना सुबह जल्दी उठिये।
Author: Yashodhara Virodai
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.