Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
भारत के नागरिकों के दुःख या फिर यूँ कहें कि उनकी समृद्धि और सम्पन्नता के रास्ते में सबसे बड़ा रोड़ा है उनके लिए विकास के नाम पर इकट्ठा हुये पैसे का उनके ऊपर खर्च न किया जाना। वास्तव में धन को दबाकर रख लेने की यह परंपरा पारंपरिक भ्रष्टाचार के अपराध से भी जघन्य और प्रभावित करने वाला है। लेकिन हैरानी इस बात की है कि इस दिशा में आज तक न तो कोई ऑब्ज़र्वर कमेटी गठित की गयी है और न ही इस दिशा में कोई स्वयंसेवी संस्था या फिर कोई समाजसेवक ने ही कभी ग़ौर नहीं किया है, जबकि यह मुख्य की-प्वांइट है और यहाँ परिवर्तन करके हमें सीधे तौर पर समाज में इसका प्रभाव भी देखने को मिल जायेगा।
वास्तव में इसे भारत का भाग्य कहें या फिर ऊपर वाले की प्रेरणा कि उक्त समस्या के समाधान के लिए उसने भारतभूमि में उसकी ही बेटी रितिका भट्टाचार्य को भेज दिया। जी हाँ, आपको यह जानकर ख़ुशी होगी कि एक राजनैतिक परिवार से ताल्लुक रखने वाली रितिका भट्टाचार्य ने हार्वर्ड विश्वविद्यालय से एमए करने के बाद विश्व बैंक में नौकरी की। लेकिन भारत उन्हे हमेशा आकर्षित करता रहा और देश सेवा के उनके जज़्बे ने उन्हें यहाँ बुला लिया। अंततः रितिका भट्टाचार्य ने विश्वबैंक की अपनी नौकरी को छोड़कर भारत के विकास में रोड़ा बने डंप अथवा रुके हुये सरकारी फंड को उजागर करने में जुट गयीं।
यहाँ आकर रितिका भट्टाचार्य ने ‘स्वनीति इनीशिएटिव’ नाम का एक एनजीओ बनाया और भारच के विकास में होने वाली फंडिग का पता लगाकर उसे जनता के मद में खर्च करवाने के लिए प्रेरित करने और दबाव देने का काम करना शुरू किया। चूँकि रोजगार विहीन लोगों के लिए मिनिमम रोजगार गारंटी योजना और किसी भी राज्य की ढाँचागत सुविधाओं के लिए राज्य सरकारों के पास वित्तपषित योजनाएँ हैं, लेकिन सरकारें पैसे दबाकर बैठ जाती हैं और बेचारी जनता ठगी जाती है। ऐसे में रितिका भट्टाचार्य उस धन को निकलवाने का काम कर रही हैं। आपको बता दें कि रितिका भट्टाचार्य न अब तक 17 राज्यों में 100 करोड़ रुपये से अधिक सरकारी फंड का इस्तेमाल करा चुकी हैं। वास्तव में रितिका से प्रेरणा लेकर समाज के अन्य जागरुक लोगों को भी ऐसा ही करना चाहिए।
Author: Amit Rajpoot
ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करें Lop Scoop App, वो भी फ़्री में और कमाएँ ढेरों कैश आसानी से!
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.