Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
एक पेड़ लगाकर फोटो खिंचवाने का चलन तो आपने ख़ूब देखा होगा, लेकिन क्या कभी आपने किसी अकेले व्यक्ति को एक ही पंक्ति में एक जैसे पेड़ न सिर्फ लगाते बल्कि ताउम्र उनकी देखभाल करते देखा है। यदि नहीं देखा तो आज हम आपको ऐसी महामाता वृक्षों की माता सालूमरदा थिमक्का के बारे में बताने जा रहे हैं। जी हाँ, आपको बता दें कि सालूमरदा थिमक्का ने अब तक आठ हजार से ज़्यादा पेड़ लगाये हैं और ये उनकी देखभाल भी मौसम के हिसाब से उन्हें बचाकर करती हैं। दिलचस्प है कि इन्होंने 400 से ज़्यादा तो सिर्फ़ बरगद के पेड़ लगाये हैं।
आपको बता दें कि थिमक्का का जन्म कर्नाटक के तुमकुरु जिले के गुब्बी तालुक में हुआ था। उनका विवाह कर्नाटक के रामनगर जिले के मगदी तालुक के हुलिकल गांव के निवासी चिककैया से हुआ था। उसने कोई औपचारिक शिक्षा नहीं ली और पास के खदान में एक आकस्मिक मजदूर के रूप में काम किया। उसकी शादी चिक्कैया से हुई थी जो एक मजदूर था लेकिन वे दुर्भाग्यवश उनके कोई संतान नहीं हुई । ऐसा कहा जाता है कि थिमक्का ने बच्चों के बदले में बरगद के पेड़ लगाने शुरू किए। सालूमरदा इनकी उपाधि है, जिसको कन्नड़ भाषा में पेड़ों की पंक्ति कहते हैं।
ग़ौरतलब है कि इनके पति की मौत साल 1991 में हो गई थी, लेकिन उसके बाद इनके अंदर और अधिक हिम्मत आ गई और इन्होने पेड़ लगाने शुरू कर दिए। इसके बाद इन्होने एक बेटा गोद लिया जिसका नाम इन्होने उमेश रखा है।
सालूमरदा थिमक्का को अब तक मिल चुके पुरस्कारः
पद्म श्री पुरस्कारः2019
हम्पी विश्वविद्यालय द्वारा नादोजा पुरस्कारः2010
राष्ट्रीय नागरिक पुरस्कारः1995
इंदिरा प्रियदर्शिनी वृक्षमित्र पुरस्कारः1997
वीरचक्र प्रशस्ति पुरस्कारः1997
कर्नाटक सरकार के महिला और बाल कल्याण विभाग से सम्मान प्रमाण पत्र।
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ वुड साइंस एंड टेक्नोलॉजी, बैंगलोर से प्रशंसा का प्रमाण पत्र।
कर्नाटक कल्पवल्ली पुरस्कारः2000
गॉडफ्रे फिलिप्स बहादुरी पुरस्कारः2006
आर्ट ऑफ लिविंग संगठन द्वारा विशालाक्षी पुरस्कार
होविनाहोल फाउंडेशन -2015 द्वारा विश्वम्मा पुरस्कार
2016 में बीबीसी की 100 महिलाओं में से एक आई एंड यू बीइंग टुगेदर फाउंडेशन द्वारा शी के डिवाइन अवार्ड से सम्मानित
पेरिस रथना पुरस्कार
ग्रीन चैंपियन पुरस्कार
वृक्षाथम पुरस्कार
Author: Amit Rajpoot
ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop App वो भी फ़्री में और कमाएँ ढेरों कैश आसानी से!
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.