Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
स्मार्टफोन खरीदते वक्त आप सबसे पहले उसमें क्या कुछ फीचर्स देखते हैं? स्मार्टफोन का कौन-सा प्रोसेसर है? कितनी रैम है? कितनी स्टोरेज है? कैमरा क्वालिटी कैसी है? कितने मैगापिक्सल्स का फ्रंट कैमरा है और कितने मैगापिक्सल्स का रियर कैमरा है? अंत में बैट्री बैकअप... इससे ज्यादा आमतौर पर लोग कुछ और नहीं देखते... लेकिन क्या आपने कभी फोन की डिस्प्ले पर फोकस किया है? कि आपने फोन की डिसप्ले कौन-सी है और कैसी है?
यहां हमारा मतलब फुल एचडी डिसप्ले और एचडी प्लस डिसप्ले से नहीं है... बहुत ही कम लोग जानते हैं कि स्क्रीन डिसप्ले 2 तरह की होती है।
एक आईपीएस-एलसीडी और दूसरी एमोलेड डिसप्ले।
आइए जानते हैं क्या है इनके काम-
आईपीएस-एलसीडी
IPS होता है इन प्लेन स्विचिंग... इसमें आप इस डिसप्ले को किसी भी एंगल में देख सकते हैं हर कोने-से आपको फोन की स्क्रीन साफ दिखेगी। इसके अलावा इस डिसप्ले में आपको सभी रंग भी साफ दिखेंगे, उदाहरण के तौर पर लाल रंग के सभी शेड आपको इसकी डिसप्ले में दिख जाएंगे। इस तरह की स्क्रीन आपको केवल महंगे फोन में ही मिलेंगी।
एमोलेड-
एमोलेड यानी कि एक्टिव मैट्रिक्स ऑर्गेनिक लाइट एमिटिंग डायोड। आमतौर पर सभी मोबाइल फोन में ओलेड OLED स्क्रीन आती है। AMOLED इसी का एडवांस वर्जन है। ये स्क्रीन अपने बेहतर रंग, ब्राइटनेस, फास्ट रिस्पांस, लाइट वेट और डिजाइन की वजह से जानी जाती है। इसके अलावा इससे बैट्री की खपत भी कम होती है।
अब जब अगली बार आप फोन खरीदने जाएंगे, जो बाकि फीचर्स के साथ स्क्रीन डिसप्ले को देखना बिल्कुल मत भूलना।
ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से...
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.