Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
आज बकरीद है। हममे से बहुत से लोग ऐसे हैं जो इस फेस्टिवल का बड़ी ही बेसब्री के साथ इंतज़ार करते रहे होंगे और इस बेसब्री की इंतेहाँ हमें देखने को मिलती है आज उनके मटन खाने में। जी हाँ, बकरीद के दिन कुछ लोग बहुत ज़्यादा मटन खा जाते हैं। वास्तव में यह इतना हो जाता है कि शान तक उनकी हालत ही पतली हो जाती है। इसके अलावा की बार चूँकि हम एक-दूसरे दोस्तों के यहाँ मेल मिलाप के लिए जाते ही हैं। इस चक्कर में की जगह हमें मटन खाने को मिल जाता है तो इस बहाने हम मटन ज़्यादा खा लेते हैं। कुल मिलाकर यदि बकरीद वाले दिन आप मटन ज़्या खा गये हों और ससे परेशान हों तो हम आपको 3 ऐसे उपाय बता रहें हैं जिसके द्वारा आप राहत महसूस कर सरके हैं।
मटन में करें सेब के सिरके का प्रयोगः
आप जब बकरीद वाले दिन मटन बना रहे हों तो इसमें ज़्यादा नहीं, कम से कम एक चम्मच सेब का सिरका डालकर पकाएँ। आपको बता दें कि इस विधि से पकाये गये मटन को खाने से हमें पेट संबंधी दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा।
रात को मटन बचाकर न रखेः
हममे में कई लोग, ख़ासकर बच्चे रात के लिए मटन छुपाकर रख देते हैं। या फिर कई बार मटनहम इतना ज़्यादा बना लेते हैं कि वह रात भर रखा रहता है। ध्यान रहे। ऐसा न होने दें। आप मटन को कम कम करके जैसे जैसे खपत बढ़ती जाये वैसे वैसे पकाएँ ताकि रात के लिए मटन न बचा रह जाये क्योंकि यह बारिश के संक्रमण का मौसम चल रहा है, थोड़ी देर में ही खाना संक्रमित हो जाता है। यह मटन में और भी जल्दी फैलता है। इसलिए कोशिश करें कि रात के लिए मटन बचाकर न रखें।
हल्का डिनरः
वैसे तो शाम तक खिलाई-पिलाई चलती रहती है। ऐसे में रात के डिनर की कोई ज़रूरत नहीं होती है इस दिन। बावजूद इसके यदि आपको कुछ खाने का मन कर रहा है और लगता है कि बिन खाये आपका काम नहीं चलेगा तो हल्के पत्थ के रूप में मूँग की गीली खिटड़ी तैयार करके खायें जिससे आपके पेट को भारी खिंचाव न पड़े और रात को अच्छी नींद के साथ आप सो जायें वरना रातभर आपका पेट ऐँठता रहेगा और आप अगले दिन सुबह तक बीमार हो सकते हो।
ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करें Lop Scoop App, वो भी फ़्री में और कमाएँ ढेरों कैश आसानी से
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.